join party
Donate
supporter
volunteer
share
घोषणा पत्र या ढकोसला पत्र ?

कांग्रेस, भाजपा और इनेलो आदि दलों ने अपने घोषणा पत्र जारी कर दिए हैं। लेकिन इन्‍हेें देखकर साफ कहा जा सकता है कि ये घोषणा पत्र नहीं, महज ढकोसला पत्र हैं। इन्‍हें पढकर लगता है कि उपरोक्‍त दल प्रदेश की जनता को मूर्ख समझते हैं। वे समझते हैं कि बेसिर-पैर की घाेषणाओं का ढकोसला कर वे जनता का समर्थन पा लेंगे और हमेशा की तरह सत्‍ता पाने के बाद अपने वादों से पीठ फे र लेंगे।

उपरोक्‍त दलों के पास प्रदेश के विकास की कोई भी ठोस योजना नहीं है। अगर गौर करें तो घोषणा-पत्रों में शामिल की गयी ज्‍यादातर बातें हवा हवाई हैं या फिर प्रदेश के भविष्‍य का बंटाधार करने वाली हैं। इनेलो और भाजपा ग्रेजुएट युवकों को 8 से 9 हजार बेरोजगारी भत्‍ता देने की बात कर रही हैं। उनका यह बयान युवाओं को लुभा सकता है, लेकिन लफ्फाजी से ज्‍यादा यह कुछ भी नहीं है। प्रदेश में इस समय रजिस्‍ट्रड बेरोजगार 7 लाख, 82 हजार हैं, जिन्‍हें भत्‍ता देेने के लिए 540 करोड चाहिएं। जहां प्रदेश के ज्‍यादातर लोग आज तक पीने का साफ पानी, गंदे पानी की निकासी, बिजली, और सीवरेज जैसी सुविधाओं से वंचित हैं, वहां बेरोजगारी भत्‍ते के लिए ये दल बजट कहां से निकालेंगे, वह भी जब प्रदेश पहले से 90 हजार करोड के कर्ज में डूबा हुआ हो।

बेरोजगारी भत्‍ता देने की बजाय क्‍यों नहीं ये दल प्रदेश में रोजगार उन्‍मुख उद्योगों को बढावा देकर युवाओं को स्‍वावलंबी बनाने की बात करते। दरअसल, यह इन दलों की सोची-समझी साजिश है। ये प्रदेश के युवाओं को बेरोजगार के साथ-साथ बेकार और बेचारा भी बना देना चाहते हैं। जिससे वे महज बेरोजगारी भत्‍ते पर आश्रित होकर रह जाएं और अपने स्‍वावलंबन के लिए प्रयास न कर इन दलों और इनके नेताओं के दुम्‍मछल्‍ले बनकर इनका हुक्‍का भरते रहें। यह युवाओं को तय करना है कि वे बेकार और बेचारा होेने की छाप चाहते हैं या स्‍वावलंबन।

समस्‍त भारतीय पार्टी का घोषणा पत्र इन दूसरे दलों से एकदम भिन्‍न है। हमने हमेशा ही प्रदेश में उद्योग धन्‍धों का विकास कर युवाओं को स्‍वावलंबी बनाने की बात की है, उन्‍हें बैसाखियां थमाने की नहीं, क्‍योंकि हमारे पास योजना भी है और प्रदेश के विकास का विजन भी। हमारे नेता प्रदेश में चुनाव लड रहे दूसरे नेताअों के सामने एक विकल्‍प नहीं हैं, बल्कि वे प्रदेश की छिछली, अपराध और जातिवाद से सनी राजनीति को समाप्‍त कर सुराज लाने का विकल्‍प हैं। हमें उम्‍मीद है कि जो लोग सच्‍चाई, ईमानदारी और प्रदेश की उन्‍नति में विश्‍वास रखते हैं वे कैंची के निशान पर बटन दबाकर हमें अपना समर्थन अवश्‍य देंगे।

Back