join party
Donate
supporter
volunteer
share
न्यूनतम आमदनी गारंटी योजना लागू करेगी स.भा.पा. :- नीलम अग्र

सभापा अध्यक्ष ने झोंकी ताकत, जिला बार एसोसिएशन सहित दर्जनों नुक्कड़ सभाओं को किया सम्बोधित।

भिवानी :- आज किसान, मजदूर, बेरोजगार युवा, देहाड़ीदार, रिक्शा चालक, रेहड़ीवाले, छोटे दुकानदार बढ़ती मँहगाई और बढ़ती रोजमर्रा की जरूरतों के चलते कर्ज के बोझ के नीचे दबे रहते है। जितनी आमदनी होती है उससे अधिक इन वर्गो का खर्चा है जिसके लिए इन्हें  उधार या कर्ज लेना पड़ता है और ये वर्ग आजीवन कर्ज के बोझ तले दबे रहते हैं। समस्त भारतीय पार्टी ऐलान करती है कि सत्ता में आने पर इन जरूरतमंद वर्गो के लिए न्यूनतम आमदनी गारंटी योजना लागू की जाएगी, जिसके तहत सरकार इनको जरूरत के हिसाब से पैसा मुहैया करवाऐगी, जिससे वर्ग अपनी रोजमर्रा की जरूरते और बीमारी, बच्चों की पढाई आदि का खर्च उठा सके और इन लोगो को किसी की तरफ मदद के लिए ना देखना पडे। सरकार इन लोगो की न्यूनतम आमदनी अपनी तरफ से देकर इनके जीवन स्तर को सुचारू रूप से चलाने में भागेदारी निभाएगी। ये शब्द समस्त भारतीय पार्टी की प्रदेश अध्यक्ष व भिवानी विधानसभा प्रत्याशी श्रीमती नीलम अग्रवाल ने भिवानी शहर के शिव नगर कॉलोनी,बिरला कॉलोनी, टीआईटी कॉलोनी, सैक्टर 13, विक्कर सैक्शन, सिटी स्टेशन, कोंट रोड, कीर्ति नगर, बृजवासी कॉलोनी, गोशाला मार्केट आदि क्षेत्रों में नुक्कड सभााओं के दौरान लोगो को सम्बोधित करते हुए कहे। 
श्रीमती नीलम अग्रवाल ने बार एसोसिएशन के वकीलों को सम्बोधित करते हुए कहा कि हम लोग सही नीयत व सोच रखते है और इसीलिए देश को अपनी योग्यता देने आए हैं। उन्होंने कहा कि भिवानी की दुर्दशा देखकर उन्हें बेहद दु:ख होता है। जिस भिवानी को राजनीति का गढ़ कहा जाता है वो गढ़ आज विकास के मामले में 15 वर्ष पीछे जा चुका है और इसका सबसे बड़ा कारण नेतृत्व की कमी हैं। श्रीमती अग्रवाल ने लोगो को ये विश्वास दिलाया कि सार्वजनिक कार्यो के लिए लोगो को दर-दर की ठोकरे नही खानी पडेगी और जनता का हर सुख-दु:ख उनका अपना सुख-दुख होगा। 
श्रीमती अग्रवाल ने कहा कि जनता का काम विश्वास करना है और उस विश्वास का सम्मान करके उस पर खरा उतरना ये मेरी जिम्मेदारी होगी। उन्होंने कहा कि राजनीति के माध्यम से सत्ता के केन्द्र तक पहुँचकर राजनेताओ ने सत्ता का केन्द्रीयकरण कर अपने स्वार्थो की पूर्ति की है और निजी हितों की खातिर सत्ता व शासन का गलत इस्तेमाल किया हैा बडे दुर्भाग्य की बात है कि केवल सरकारी कागजों तक विभाग बनाकर छोड़ दिए जाते है और ना ही उनकी कोई कार्यशैली होती है और ना ही जवाबदेही। इस अवसर पर पार्टी के सभी वरिष्ठ पदाधिकारियों के अलावा सैकड़ो की संख्या में लोग उपस्थित थे।

Back